0751-4901333

माँ

शिवानी श्रीवास्तव(छात्रा) ग्वालियर म       18-10-21

 

माँ

 
है चंडी वो,वो प्रतापिनी
है माँ वो गर्जनी
दानवो का संहार करदानी
मानवो की रक्षा करदनी
पूजा माँ को वो कृपालिनी
बोलो जय दुर्गा बन्दनी
 
भरतीय हिन्दू समाज मे जितने पर्व और उत्सव मनाये जाते हैं उनमें नवरात्र का विशिष्ट स्थान है यह शक्ति की आसना का पर्व है क्यों कि शक्ति ही विश्व का सृजन करती है शक्ति ही उसका संचालन करती है,शक्ति ही उसका संहार करती है, नवरात्रि के त्योहार पर हम माँ की पूजा आराधना करके अपने मन के नकारात्मक बिचारो की जगह सकारात्मक विचारों को उत्पन्न करते हैं,क्यों कि हमारे जीवन मे मां के बहुत महत्वपूर्ण स्थान है एक दुर्गा माँ दूसरी धरती माँ और तीसरी हमारी माँ ये तीनो ही माँ बचपन से लेकर बुढापे तक  हमारे साथ रहती हैं और हमेशा हमारी रक्षा कर कुछ न कुछ सिखाती हैं,जब नवरात्रि का त्योहार आता है तो चारो तरफ ख़ुशहाली आ जाती है गरबा खेलकर लोग मां की आराधना करते हैं और अपनी खुशी जाहिर करते हैं,माता के दरबार मे जाकर हम अपने सुख दुख उनको व्यक्त करते हैं क्यों कि इस पर सभी परेशानियों का समाधान किसी न किसी रूप में जरूर होता है,अतः मैं सिर्फ इतना ही कहना चाहूंगी कि इस पर्व पर हम सबको मिलकर यह संकल्प लेना चाहिए कि बेटियों को बचाएंगे तथा उन्हें अपने पैरो पर खड़े होने देंगे उनमे कोई भेदभाव नही करेंगे, क्यों कि जब बेटियां ही नही होंगी तो नवरात्रि पर कन्या भोज किसे कराओगे,घर मे बहु,बेटी,पत्नी कैसे लाओगे..?
सिर्फ 09 दिन बेटियो की पूजा करने से ही हमारी माँ दुर्गा प्रसन्न नही होंगी क्यों कि सबको जीने का अधिकार है।।
जय माता दी
 
शिवानी श्रीवास्तव(छात्रा)
(शासकीय कमला राजा छात्रा महाविद्यालय ग्वालियर मप्र)