0751-4901333

शहर

बड़ी मुश्किल से मिलता है चमन को दीदार पैदा ... नवागत पुलिस कप्तान मुरैना रियाज इकबाल ...


पुष्पांजलि टुडे न्यूज़ का मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Posted By : Keshav Kumar Sharma    2019-02-09  



✍केशब पडित जी अम्बाह✍

मुरैना... एक प्रेस वार्ता के दौरान उन्होंने कहा मुरैना में कोई कितना बड़ा आदमी क्यों ना हो यदि कानून का उल्लंघन करते पाया गया तो पुलिसिया कार्रवाई से बिल्कुल नहीं बचेगा महिलाएं बालिकाओं की सुरक्षा के साथ जिले में कानून व्यवस्था बनाए रखना उनकी पहली प्राथमिकता है उक्त बातें मुरैना के नवागत पुलिस कप्तान रियाज इकबाल जी ने पत्रकार बार्ता के दौरान जिले के पत्रकारों से परिचय प्राप्त किया बैठक में कही उनके साथ एेएसपी अनुराग सुजानिया  भी मौजूद थे मुरैना में क्राइम ज्यादा है ऐसे मुद्देा को लेकर आए दिन परेशानी आती है इसकी जानकारी मुझे है जिस पर सही तरीके से पुलिसिंग करेंगे

      """नपेगे थाना प्रभारी """

एसपी इकबाल साहब ने अपने कड़े तेवर  दिखाते हुए सभी थाना प्रभारियों को सचेत किया है कि काम में लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी जिस टीआई के क्षेत्र में अवैध कारोबार जैसे, रेत, सट्टा, जुआ, या शौहरत की भनक मिली  तो बीट प्रभारी समझो उसके ऊपर पुलिसिया गाज जरूर गिरेगी आरोपियों को संरक्षण देने वाले पुलिसकर्मियों को नहीं छोड़ा जायेगा इसलिए बेहतर होगा कि अपने अपने काम में ध्यान दें और जनता के विश्वास में खरा उतरें मुरैना मे एन,आर,एस की शिकायते मिलरही है पुराने हैं  उन्हें हटाए  नये लडके रखे नया रजिस्टर बनाये अन्यथा कारबाई की जाबेगी अगर चौराहे या कही अबैध बसूली की जानकारी मिली तो प्रभारी पर ही कारबाही निस्चित है...

    """ग्वालियर भोपाल में रहे हैं          एेएसपी"""

भोपाल, ग्वालियर ,पन्ना ,में पदस्थ रहे हैं ? एसपी इकबाल ने अपने कार्यकाल के विवरण में बताया बतौर एेएसपी भोपाल में साढे 3 वर्ष ग्वालियर में डेढ़ बर्ष कार्य कर चुके हैं 2016 में बतौर एसपी पन्ना जिले में पहली पोस्टिंग हुई थी उन्होंने कहा फुटबॉल एवं टेनिस पसंदीदा खेल है एसपी बनने के सवाल पर इकबाल जी ने बताया कि वह बेसिकली केरल के निवासी हैं और वे आईआईटी इंजीनियर भी रहे हैं

"""2011 में यूपीएससी किया  क्वालिफाइड"""

उनके पिता भी इंजीनियर है उनका कहना था कोई सिविल सर्विस में जाए जिसके बाद वह 2011 में यूपीएससी की परीक्षा में बैठ गए पारिवारिक जानकारी में इकबाल साहब ने बताया उनकी पत्नी सॉफ्टवेयर इंजीनियर है भेदभाव जैसी कोई चीज नहीं है जो हिंदू समाज से संबंध रखती है और उनकी एक साढे चार बरस की बच्ची है जाति पाति ब धार्मिक भेदभाव जैसी कोई चीज उनके बीच नहीं है बड़े ही बेबाक अंदाज में इकबाल साहब ने कहा कि हम अलग-अलग धर्म से भले ही है पर एक दूसरे के धर्म स्थल पर पूरी आस्था से जाते हैं...

...केशब पडित जी पुष्षॉजली टुडे रिपोर्टर अम्बाह...


Newsletter

Pushpanjali Today offers You to Subscribe FREE!