0751-4901333

देश

केरल में अब तक 324 की मौत, PM मोदी स्थिति का जायज़ा लेने रवाना


पुष्पांजलि टुडे न्यूज़ का मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Posted By : Sunil Rajak    2018-08-17  

तिरूवनंतपुरम। केरल में आफत की बारिश से लोग बेहाल हैं। सड़कें, पुल, एयरपोर्ट सब बारिश में डूबे हुए हैं। इस बीच कासारागोड को छोड़कर केरल के 13 जिलों में एक बार फिर बारिश को लेकर रेड अलर्ट जारी किया गया है। एर्नाकुलम के अलावा इडुक्की जिले सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब केरल के हालात का जायज़ा लेने के लिए रवाना हो गए हैं।

इस बीच केरल के मुख्यमंत्री ने अपने ट्विटर अकाउंट से केरल में बाढ़ औऱ बारिश से मरने वालों की जानकारी दी है। उनके मुताबिक अब तक 324 लोगों की जान चली गई है। वहीं सीएम ने इसे केरल के 100 साल के इतिहास की सबसे भयानक बाढ़ करार दिया है। 80 बांधों के गेट खोलने पड़े हैं। वहीं दो लाख से ज्यादा लोग रिलीफ कैंप में रहने को मजबूर हैं। सीएम पी विजयन ने लोगों से मदद की अपील की। इसके लिए उन्होंने नंबर जारी किए हैं।

इस बीच केरल के सीएम पी विजयन ने बारिश और बाढ़ से मरने वालों की संख्या की जानकारी दी है। सीएम विजयन के मुताबिक अब तक 167 लोग बारिश और बाढ़ की वजह से मर चुके हैं। केरल में बाढ़ से हालात बेकाबू हो चुके हैं। ऐसे में अब मदद के हाथ भी आगे बढ़ रहे हैं। केंद्र के अलावा राज्य सरकारें भी संकट की इस घड़ी में केरल के लोगों के साथ खड़ी हैं।

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बाढ़ग्रस्त केरल के लिए दस करोड़ की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है। इसमें पांच करोड़ रुपए सीधे सीएम आपदा कोष में सीधे भेजे जाएंगे। वहीं बाकी के पांच करोड़ रेडीमेड खाद्य साम्रगी पर खर्च किए जाएंगे।

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल के सीएम पी विजयन से फोन पर बात की है और केरल को हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया है। पीएम मोदी ने केरल में बाढ़ के हालात के अलावा रेस्क्यू ऑपरेशन की जानकारी ली। आज शाम तक पीएम मोदी केरल पहुंचकर बाढ़ से बिगड़े हालात का जायजा लेंगे। वहीं बारिश की वजह से कोच्चि एयरपोर्ट पर पानी भर गया है। इसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है। जिसमें पूरा रनवे पानी से भरा नजर आ रहा है।

केरल के अलापुझा, इडुक्की, कोच्चि के अलावा कई जिले बारिश और बाढ़ से प्रभावित हैं। पानी शहरों के अंदर घुस आया है। अलापुझा के चुनाक्कारा गांव में सड़कें पानी में डूबी नजर आ रही हैं। वहीं राहत और बचाव कार्य के लिए कोस्ट गार्ड की चार नाव कोच्चि पहुंच गई हैं।

कोस्ट गार्ड ने अब तक 1764 लोगों को बचाया है। वहीं चार हजार से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है। फिलहाल 24 टीमें बाढ़ प्रभावित गांवों में राहत और बचाव कार्य में लगी हुई हैं। इस बीच एनडीआरएफ की पांच और टीमें तिरूवनंतपुरम पहुंच गई हैं, जिन्हें राहत और बचाव कार्य में लगा दिया गया है। आज शाम तक 35 और टीमें केरल पहुंच जाएंगी।

इसके अलावा कर्नाटक में भी बारिश ने जनजीवन प्रभावित किया है। कोडागु-कुशलनगर के बीच भूस्खलन हो जाने से रास्ते बंद हो गए हैं।

Newsletter

Pushpanjali Today offers You to Subscribe FREE!