0751-4901333

शहर

इस बार चुनावी समर में 90 से ज्यादा दल


पुष्पांजलि टुडे न्यूज़ का मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Posted By : Pushpanjali Today    2018-11-05  

इंदौर। मप्र के विधानसभा चुनाव के रण में खम ठोंकने वाले राजनीतिक दलों की तादाद में इस बार खासा इजाफा हुआ है। 90 से ज्यादा पार्टियां इस बार चुनाव मैदान में होंगी। बीते विधानसभा चुनाव में इनकी संख्या 66 थीं। पांच साल में 18 नई पार्टियों ने लोकतंत्र के उत्सव में अपने झंडे के साथ प्रवेश किया है। ये सभी गैर मान्यता प्राप्त राजनीतिक दल हैं। चुनाव आयोग से इन दलों को बल्लेबाज, पेट्रोल पंप, आरी, कैंची, जूता, जुराब जैसे चुनाव चिन्ह आवंटित होंगे। 2013 में हुए विधानसभा चुनाव में कुल 66 दल मैदान में थे। इनमें छह राष्ट्रीय, नौ प्रादेशिक और 51 गैर मान्यता प्राप्त रजिस्टर्ड राजनीतिक दल शामिल थे।
निर्दलीयों सहित 230 सीटों पर पिछले चुनाव में कुल 2583 उम्मीदवारों ने भाग्य आजमाया था। इनमें महिलाओं की संख्या महज 200 थी। इस बार भाजपा, कांग्रेस, बसपा के अलावा 96 राजनीतिक दल मैदान में खब ठोंक रहे हैं। इनमें से 84 ऐसे हैं जिनके पास अब तक मान्यता नहीं है। इनमें से हर एक पार्टी को आयोग एक चुनाव चिन्ह आवंटित कर रहा है।
मान्यता बरकरार रखने के लिए आयोग ने यह शर्त रखी है कि दलों को कम से कम पांच प्रतिशत सीटों पर (यानी 12) प्रत्याशी मैदान में उतारना होंगे। 2013 के विधानसभा चुनाव में मैदान में उतरे गैर मान्यता प्राप्त 51 दलों का प्रदर्शन बहुत ही कमजोर था। ये सभी दल मिलकर भी तीन प्रतिशत वोट हासिल नहीं कर सके। वहीं भाजपा, कांग्रेस और बीएसपी को ही साढ़े 87 प्रतिशत से ज्यादा मत मिल गए थे। गैर मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों के प्रत्याशियों में एक भी ऐसा नहीं था जो जमानत बचा पाया हो।


Newsletter

Pushpanjali Today offers You to Subscribe FREE!